Toothache: दांत दर्द का कारण व घरेलू उपचार healthonhindi

Toothache: दांत दर्द का कारण व घरेलू उपचार
Toothache pain relief,toothache remedy,home remedies toothache


Dant dard thik kaise kare toothache pain relief,toothache remedy,home remedies toothache

Toothache: दांत दर्द का कारण

दांतो में दर्द होने के के कई कारण हो सकते हैं। कभी दांतों में कीड़े लग जाने की वजह
से दर्द उठता है तो कभी मसूढ़ों में किसी तकलीफ की वजह से दांत दर्द करने लगते हैं। कभी-कभी दांतो की जड़ें काफी ढीली हो जाती हैं। इस वजह से भी दांतों में असहनीय पीड़ा होती है। ऐसी स्थिति में सही से ब्रश कर पाना काफी मुश्किल होता है और सांसों से बदबू आना भी शुरू हो जाता है। जब हम कुछ खाते हैं तो कुछ हिस्सा दांतों पर ही रह जाता है. जैसे सब्जी का दांतों में फंस जाना आदि. यह चीजें दांतों में सड़न पैदा करती हैं. जिससे दांत धीरे-धीरे कमजोर होते जाते हैं. खाना खाने के बाद हम कुल्ला नहीं करते जिसकी वजह से दांत ठीक से सांफ नहीं हो पाते हैं. पहले हम कुछ भी खाने के बाद कुल्ला कर के मुंह साफ़ कर लिया करते थे और आज के समय में कुल्ला करना बेशर्मी का प्रतिक के जैसा हो गया हैं. इसलिए अगर आप दांतों का साफ़ और मजबूत चाहते हैं तो कुछ भी खाने के बाद कुल्ला करना न भूले.
कुछ बच्चे या स्त्री-पुरुष बहुत लापरवाही से ब्रश करते हैं। ऐसे में दांतों के बीच में फंसे अन्न कण नहीं निकल पाते। जब रात को हम सो जाते हैं तो लार के संपर्क से उन अन्न कणों में सड़न होने लगती है। उन अन्न कणों के सड़ने से दांतों की जड़ें खोखली हो जाती हैं। उन खोखली जगहों में भोजन के अंश भर जाने और सड़न होने से दांत दर्द होने लगता है।दांतों की अच्छी तरह सफाई नहीं करने से मसूढ़ों को सबसे ज्यादा हानि पहुंचती है। मसूढ़ों में सूजन हो जाने से मसूढ़े कमजोर हो जाते हैं। मसूढ़ों के कमजोर हो जाने से दांत टूटने लगते हैं।मसूढ़ों पर जीवाणुओं का संक्रमण होता है “पायरिया’ हो जाता हैं। 

पायरिया से रोगी को बहुत नुक्सान पहुंचाता है।रात को दांत साफ नहीं करने के कारण दांतों में अधिक दर्द की संभवना हो सकती है।बच्चो को खेलते-कूदते गिर-पड़ने से दांतों में चोट लग जाने पर दांत हिलने लगते हैं और फिर उनमें दर्द होने लगता है।गर्भावस्था में दांतों में सड़न की समस्या अधिक होती है। जो आगे चलकर दांत दर्द का कारण बन सकती है |

Toothache: दांत दर्द के लिए घरेलू उपचार


Toothache आज हम आपको यहां घरेलु नुस्खे बताएंगे जिनके जरिये आप दांतों के दर्द को ठीक कर सकते हैं. अधिकतर लोग तो ऐसे में अंग्रेजी दवा का उपयोग करते है जो की जरा से फायदे के साथ ढेर सारे नुकसान करती है. इसलिए आप इन देसी इलाज को अपनाये व इस पोस्ट को पूरा निचे तक पड़ें

ग्रीन टी


सभी जानते हैं कि सेहत के लिए अच्छी है ग्रीन टी, लेकिन ये दांत दर्द में भी कमाल करती है। ग्रीन टी लीव्ज कूल होती है और इनमें टैनिन एसिड, कैटेचिन, फ्लोरल आदि तत्व होते हैं जो दांतों को मजबूत बनाते हैं और इन्हें स्वस्थ रखते हैं। दांत में दर्द होने पर ग्रीन टी की पत्तियों को पांच मिनट तक चबाएं। दिन में दो-तीन बार इस प्रक्रिया को दोहराएं। 

खीरा


खीरा भी दांत दर्द में आराम पहुंचाता है। ये ठंडी तासीर वाला फल है और मसूढ़े में सूजन वाले हिस्से में शांति पहुंचाता है। खीरे को काटकर खूब चबाएं। इसमें थोड़ा नमक डालें। ये आपके दांत दर्द में आराम पहुंचाएगा और दांत में दर्द की वजह से आप सॉलिड फूड नहीं खा पा रहे हैं उसकी कमी की पूर्ति भी करेगा। 
नमक भी दर्द में आराम पहुंचाता है। खीरा अगर फ्रिज में रखा हुआ और बहुत ठंडा है तो उसे सामान्य होने दें।

लहसुन


दांत दर्द के घरेलू उपचार में लहसुन भी शामिल किया जाात है। इस दर्द में ये तुरंत आराम पहुंचाता है। लहसुन में एंटी-बायोटिक्स होते हैं और दूसरे कई औषधीय गुण भी इसमें शामिल हैं जो बैक्टिरियल इफेक्ट्स को तुरंत कम करते हैं। दांत दर्द होने पर लहसुन के पाउडर में थोड़ा नमक मिक्स करें और दर्द वाले हिस्से पर इसे अच्छी तरह लगाएं। इसके अलावा लहसुन की फ्रेश कलियों को भी चबा सकते हैं इससे भी दर्द में आराम मिलेगा। दर्द के खत्म होने तक इस प्रक्रिया को बार-बार दोहराते रहें।

अमरूद की पत्तियां


अमरूद के पेड़ की ताजा पत्तियां दांत दर्द की जलन को तुरंत खत्म करती हैं। अमरूद की पत्तियों में दर्द निवारक गुण होता है और एंटी-बैक्टिरियल प्रॉपर्टीज भी, जो दांत में लगाने पर दर्द तुरंत खत्म करती है। इन पत्तों को साफ करके मुंह में रखकर चबाएं। पत्तों को पानी में उबालकर ठंडा होने पर थोड़ा नमक मिक्स करें और माउथवॉश की तरह इस पानी से कुल्ले करें, दर्द में आराम आएगा।

लोबान


लोबान में एंटी-बैक्टिरियल और एंटी-इनफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज पाई जाती है जो दांत के बैक्टिरिया को खत्म करके दर्द में आराम पहुंचाती हैं। थोड़ी मात्रा में लोबान पाउडर लेकर इसे एक कप पानी में तीस मिनट तक उबालें और ठंडा होने पर इससे कुल्ले करें। दिन में चार-पांच बार ऐसा करने पर दर्द गायब हो जाता है।

मुंह की सफाई जरूरी


दांतों के सेंसेटिव पेन में काली मिर्च और नमक कमाल का काम करते हैं। कालीमिर्च पाउडर और नमक को बराबर मात्रा में लेकर मिलाएं और कुछ बूंद पानी मिलाकर पेस्ट बना लें। इसे दर्द वाली जगह पर लगाएं और कुछ मिनट के लिए छोड़ दें। दर्द गायब हो जाएगा। स्मूदीज, डिप, सूप आदि में थोड़ा सा काली मिर्च पाउडर डालकर इन्हें स्वादिष्ट बनाया जा सकता है और इससे आपके दांतों की सेहत भी प्राकृतिक तरीके से अच्छी बनी रहेगी।

एल्कोहल


एल्कोहल दांतों के दर्द में अच्छा है। दर्द होने पर वोदका, ब्रांडी, स्कॉच या व्हिस्की का घूंट भरकर जितनी देर हो सके मुंह में रखें। दांत का दर्द तुरंत गायब हो जाएगा। ये स्ट्रॉन्ग माउथवॉश है और दांत दर्द होने पर इस ट्रिक पर भरोसा किया जा सकता है।

आलू


आलुओं में ढेर सारे पोषक तत्व होते हैंं। दांत दर्द में भी आलू का इस्तेमाल फायदेमंद होता है। आलू को छोटे पीस में काटकर कच्चा ही अच्छी तरह चबाएं। इन पर नमक डालें। दांत का दर्द तुरंत खत्म हो जाएगा।

अच्छा टूथपेस्ट इस्तेमाल करें



दांतों को अच्छी तरह ब्रश करने पर भी दांत में दर्द खत्म हो जाता है। पुराने या खराब टूथब्रश इस्तेमाल करने से भी दांत में दर्द होता है। इसलिए अच्छी क्वालिटी के ब्रश इस्तेमाल करें। दांतों की हेल्थ के लिए टूथपेस्ट भी अच्छी क्वालिटी के होने चाहिए।


बेकिंग सोडा



अच्छी स्किन और बालों के लिए बेकिंग सोडा इस्तेमाल किया जाता है। इसे दांत दर्द में भी प्रयोग किया जा सकता है। रूई के फाहे को पानी में डालकर निचोड़ लें फिर इस पर बेकिंग सोड़ा छिड़कें और दर्द वाले हिस्से पर अच्छे से घुमाएं। इसके अलावा गुनगुने पानी में थोड़ा बेकिंग सोडा डालकर इसे घुलने तक हिलाएं और इससे कुल्ले करें। दांत का दर्द सही हो जाएगा।

लेख को पूरा पढ़ने के लिए धन्यवाद शेयर करें अपने परिवार और दोस्तों के साथ अपनी सेहत का ध्यान रखें love ❤ you🙋

Post a Comment

0 Comments